Sunday, February 3, 2008

ताकत...

ताकत शब्‍द में ताकत नहीं है...
ताकत शब्‍द चर्चाओं से दूर है
ताकत अब दुकानों में है
बोर्नबीटा, माइलो और कॉम्‍प्‍लेन के डिब्‍बों में
इसी तरह ताकत अब कलम में नहीं है
अपितु जेटर, फाइटर और सेलो में है ...

2 comments:

आशीष महर्षि said...

सोनू जी आप बोल हल्‍ला के पाठक हैं, यह जानकर अच्‍छा लगा। ताकत को अपने बड़े सरल लेकिन गहराई से शब्‍दों में डाला है जो कि काबिले तारीफ है

आशीष

Narendra said...

Good to Read... I am really impressed